अपनी हीं सरकार में तीन दिनों से थें फंसे मोदी, तब लालू थे जिम्मेवार आज प्रकृति ?

लालू प्रसाद के शासन में पानी पी पी कर जल जमाव के खिलाफ कोसने वाले बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी स्वयं तीन दिनों से अपने हीं घर में जलजमाव में फंसे हुए थें. उनको आज अपने राजेद्र नगर आवास में तीन दिनों बाद निकाला गया.गौरतलब है कि पिछले तीन दिनों से पटना में जबरदस्त बारिश के बाद पटना का लगभग 80 प्रतिशत इलाका पानी में डूबा हुआ है. खासकर राजेंद्र नगर का इलाका जलजमाव से बुरी तरह प्रभावित है.

बताते चलें कि राज्य के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी को रेस्क्यू कर घर से बाहर लाया गया है. श्री मोदी पिछले तीन दिनों से राजेन्द्र नगर स्थित अपने आवास में पानी से घिरे हुए थे. आज एसडीआरएफ की टीम ने उन्हें और उनके परिवार को सुरक्षित बाहर निकाला है.पटना में जलजमाव की समस्या कोई नयी नहीं है. हल्की बारिश में भी पटना का राजेंद्र नगर और कंकड़बाग का इलाका न सिर्फ डूब जाता है बल्कि पानी निकलने में भी महीनों लग जाते हैं.

राजद के शासनकाल में वर्तमान डिप्टी सीएम और तत्कालीन विपक्ष के नेता सुशील मोदी इस जलजमाव के खिलाफ हाफ पैंट पहन कर क्षेत्र का दौरा करते थें और जलजमाव के खिलाफ धरना, अनशन बंदी कराकर इसके लिए सीधे तौर पर लालू प्रसाद की सरकार को जिम्मेवार ठहराते थें. दया बेन एक बार फिर लौट रही हैं तारक मेहता का उल्टा चश्मा में

सरकार बदल गयी और उनकी खुद की सरकार भी लगभग डेढ़ दशक से राज्य में है पर जलजमाव की समस्या ने और विकराल रूप ले लिया है.

पहले जिम्मेवार सरकार होती थी पर अब प्रकृति.

Leave a Reply