नयी दिल्ली:
लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के राजद से गठजोड़ करने के संकेत से क्षुब्ध बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने में विफल रहने के लिए संप्रग सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आगामी चुनाव के मद्देनजर उसकी प्राथमिकताएं बदल गयी हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने इस दिशा में पहले पहल भी की थी, लेकिन इन दिनों यह मामला ठंडा पड़ा हुआ है । जदयू नेता ने अपने चिर प्रतिद्वन्द्वी लालू प्रसाद के नेतृत्व वाले राजद के साथ कांग्रेस के गठजोड़ करने की संभावना पर कोई टिप्पणी करने से इनकार करते हुए इसे उस पार्टी (कांग्रेस) का निर्णय बताया और कहा कि इससे उनकी पार्टी चिंतित नहीं है। ‘बिहार कल, आज और कल..जमीनी स्तर पर शासन: भारत के लिए मॉडल’ विषय पर समारोह को संबोधित करते हुए नीतीश ने कहा, कुछ समय के लिए ऐसा लगा था कि केंद्र गंभीर है विशेष दर्जे के संबंध में। उसने कुछ पहल भी की थी। अब ऐसा लग रहा है कि इसे ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है। चुनाव आ रहे हैं। यह हमारे लिये बड़ा मुद्दा होगा। नीतीश कुमार ने दार्शनिक अंदाज में कहा, वक्त – वक्त की बात है। समय बदल गया है। समय का चक्र हर समय चलता रहता है। यह किसी समय किसी के एक के पक्ष में होता है और किसी समय दूसरे के। गौरतलब है कि भाजपा में नरेन्द्र मोदी का कद बढ़ाये जाने के बाद जदयू से गठबंधन तोड़ने के बाद नीतीश का रूख कांग्रेस के प्रति लगातार नरम रहा है। कांग्रेस ने भी जदयू के साथ आने का संकेत दिया था हालांकि बाद में वह राजद से गठजोड़ को इच्छुक दिख रही है। यह पूछे जाने पर कि क्या वे कांग्रेस और राजद के बीच गठबंधन की संभावना से निराश हैं, नीतीश ने कहा कि उनकी पार्टी ने कभी भी गठबंधन की बात नहीं की। शेष पेज 5 पर
बदल गयीं केंद्र …
उन्होंने कहा, यह (राजद से गठबंधन) उनका निर्णय है, हमारे बीच इस बारे में कभी बात नहीं हुई। बिहार विशेष राज्य का दर्जा चाहता है और यह हमारा अधिकार है। हम इसे हासिल करेंगे। लालू प्रसाद की ओर इशारा करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई व्यक्ति जेल से बाहर आता है और ऐसे पेश आता है जैसे वह स्वतंत्रता आंदोलन में हिस्सा लेने के लिए जेल गया हो। गुजरात के मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि लोगों को इस तरह से सपने बेचे जा रहे हैं जैसे कोई व्यक्ति जादू की छड़ी लेकर आयेगा और देश की सभी समस्याओं का समाधान निकाल देगा।

 

Leave a Reply