राजगीर:
स्वयं सहायता समूह की दीदियां बाल विवाह का विरोध करें। बाल विवाह लड़कियों के लिए हानिकारक है, समय से पहले गभर्धारण करने से जान पर खतरा भी आ सकता है। बेटा हो या बेटी सबकों पढ़ायें। आबादी को नियंत्रित करने के लिए शिक्षा राम बाण है। 12वीं पास लड़कियों में प्रजनन दर राज्य में 1.6 है, जबकि राष्टÑीय औसत 1.7 का है इसलिए हमने निर्णय लिया है कि जनसंख्या नियंत्रण के लिए हर पंचायत में 12वीं कक्षा का विद्यालय खोले गये हैं। 1 से 10 तक पढ़ने वाली सभी बच्चियों को छात्रवृति दे रहे हैं, पोशाक दे रहे हंै। मध्याह्न भोजन और अन्य सुविधाएं दी जा रही हैं। 9वीं कक्षा में पहुंचने पर साइकिल दे रहे हंै। अब कोई बहाना नहीं है। स्कूल अवश्य जायें। राजगीर में आप सब ये संकल्प ले रहे हंै, इसे आप जरूर पूरा करेंगे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार रविवार को राजगीर अन्तर्राष्ट्रीय समागम केन्द्र में जीविका एवं बैंकों के सहयोग से स्वयं सहायता समूह के सामाजिक एवं वित्तीय समावेशन की ओर निरंतर बढ़ते कदम कार्यक्रम की दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारंभ करने के बाद उपस्थित जनसमूह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा, शराब बंदी पर भी ध्यान देना है। Untitledगरीब आदमी तो कभी भी न पीये, शराब के बदले दूध, पौष्टिक आहार फल खाये। गरीब शराब पीता है तो वह अपने परिवार को जोखिम में डालता है, जो ग्राम संगठन पूर्ण शराबबंदी को लागू करेगा, उसे 1 लाख रुपये पुरस्कार देंगे। ऐसे ग्राम संगठन जो शराबबंदी, शौचालय निर्माण और पढ़ाई में ध्यान देगा और अपने ग्राम संगठन को पूर्ण स्वच्छ रखने के लिए हर घर में शौचालय का निर्माण करायेगा, वैसे जीविका ग्राम संगठन के भवन को बनाने के लिए 5 लाख रुपये की राशि दी जायेगी। जीविका समूह को ब्याज दरों में 3 प्रतिशत की सहायता दी जायेगी, ऋण की अदायगी समय पर करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीबी को दूर करने के लिए मैंने समेकित मुर्गी विकास योजना चलाई है, जिसके अन्तर्गत जीविका स्वयं सहायता समूह की सभी सदस्यों को 45 से 105 चुजे दिये जायेंगे। चुजे को टीकाकरण इत्यादि के लिए 10 रुपये की राशि आपको देनी होगी। इस योजना पर 238 करोड़ खर्च होगा। मदर यूनिट को 1 लाख 20 हजार रूपये का अनुदान दिया जायेगा। मदर यूनिट एक दिन से लेकर 28 दिन तक के चुजे को अपने यहॉ रखेगा और फिर इसका वितरण समूह के सदस्यों के बीच करेगा। समग्र बकरी योजना भी चलाई गई है, जिसके अन्तर्गत 3 उन्नत जाति की बकरी स्वयं सहायता समूह के सदस्यों को दी जायेगी। एक उन्नत जाति का बकरा ग्राम संगठन को दिया जायेगा।

Leave a Reply