नयी दिल्ली:
केन्द्र सरकार ने बिहार में राष्टÑीय राजमार्ग संख्या 82 के पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण गया-हिसुआ-राजगीर-नालंदा-बिहारशरीफ खंड को चार लेन का बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है । मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति की गुरुवार को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में हुई बैठक में 93 किलोमीटर लंबे इस खंड को चार लेन का करने का अनुमोदन किया गया। इस परियोजना पर 1408.85 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है। इस राशि में 192.69 करोड़ रुपये जमीन अधिग्रहण, पुनर्वास तथा निर्माण पूर्व कार्यों के लिये निर्धारित किये गये हंै। यह परियोजना अनुबंध समझौते होने के तीन वर्ष के भीतर पूरी की जायेगी। मंत्रिमंडल ने गुजरात में राष्टÑीय राजमार्ग संख्या आठ के बडोदरा – सूरत खंड को छह लेन का करने की भी मंजूरी दी। परियोजना के तहत नर्मदा नदी पर चार लेन का पुल तथा आठ लेन के दो फलाईओवर भी बनाये जायेंगे। इस परियोजना पर 503 .16 करोड़ रुपये की राशि व्यय होगी। बिहार में गया – बिहारशरीफं खंड को चार लेन का बनाने से बौद्ध पर्यटकों तथा प्रचाीन नालंदा विश्वविद्यालय की झलक पाने वाले पर्यटकों को सुविधा मिलेगी। इससे पर्यटक स्थल गया और राजगीर के यात्री भी लाभन्वित होंगे। जापान इंटरनेशनल कारपोरेशन एजेंसी इस खंड में सिविल निर्माण तथा पर्यवेक्षण कार्यों के लिये पूरा ऋण देने पर सहमत हो गयी है।

Leave a Reply