नयी दिल्ली:
आम आदमी पार्टी (आप) के नेता अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को दिल्ली में नयी सरकार के गठन का दावा पेश किया, जिससे एक पखवाड़े से अधिक समय से बनी अनिश्चितता समाप्त हो गयी। केजरीवाल ने उप राज्यपाल नजीब जंग से दोपहर मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया। श्री केजरीवाल ने ऐतिहासिक रामलीला मैदान में शपथ लेने की इच्छा जतायी है। बैठक के बाद में उन्होने संवाददाताओं से बातचीत में बताया कि उपराज्यपाल सरकार के गठन के उनके दावे को विचारार्थ राष्टÑपति प्रणव मुखर्जी को भेजेंगे। केजरीवाल ने बताया कि राष्टÑपति से निर्देश आने के बाद शपथ ग्रहण का कार्यक्रम तय होगा। बताया जा रहा है कि केजरीवाल 26 दिसंबर को शपथ ग्रहण करना चाहते हंै। ‘आप’ के एक अन्य नेता मनीष सिसौदिया ने कहा कि शपथ ग्रहण का कार्यक्रम तय होने में एक दो दिन का वक्त लग सकता है। इससे पहले केजरीवाल अपनी निजी मारुति वैगन आर कार से राजभवन पहुंचे थे और उपराज्यपाल को पार्टी के निर्णय और सरकार बनाने के दावे वाला पत्र सौंपा। राजभवन के बाहर ‘आप’ के समर्थकों, कार्यकर्ताओं और मीडिया का जमावड़ा था। करीब सप्ताह भर तक टेलीफोन, एसएमएस, वेबसाइट और जनसभाओं के माध्यम से ‘आप’ ने दिल्ली की जनता की कांग्रेस के समर्थन से दिल्ली में सरकार के गठन के लिए राय- शुमारी करायी। श्री केजरीवाल ने सुबह पार्टी के सरकार के गठन के समर्थन के हक में निर्णय की घोषणा की थी।

Leave a Reply