मुजफ्फरपुर के गायघाट थाना क्षेत्र मे पुलिस की बर्रबरता ॥ हैवानियत का नंगा नाच करते पुलिस ने शादी के मंडप पर बैठी दुल्हन को गिरफ्तार कर उसकी बर्बरतापूर्ण पिटाई की ॥ हैवानियत की सीमा लांघते पुलिस ने महिला के निजी अंगों को राईफल के कुंदे से कूट दिया ॥दुल्हन और उसकी बहन के साथ घर के दो पुरूष सदस्यों को गिरफ्तार किया गया ॥जेल प्रशासन ने महिलाओं की गंभीर अवस्था को देखते हुए कैद मे रखने से इंकार कर दिया है ॥
इंसानियत को शर्मसार करनेवाली यह घटना आधी आबादी को उसका हक दिलाने वाली सरकार के राज्य मे महिला सशक्तिकरण का आईना है ॥
पुलिस की दलील है कि गांव वालों ने अपहरण के आरोपित को पकड़ने गयी पुलिस पर ग्रामीणों ने हमला किया ॥सवाल है कि यदि गांव के लोगों ने पुलिस पर हमला किया तो दुल्हन की गिरफ्तारी क्यों ??
कोई पुलिसकर्मी हमले मे घायल क्यों नहीं हुआ ??
क्या मुजफ्फरपुर पुलिस इतना कमजोर है कि महिला उसे खदेड़ कर भगा देती है ??
बिना महिला पुलिस के गायघाट के थानेदार जिस तरह महिलाओं के साथ हाथापाई करते नजर आ रहे हैं वह मुजफ्फरपुर पुलिस के स्वच्छंद आचरण को दर्शाता है ॥
ऐसे में क्या मुजफ्फरपुर के पुलिस कप्तान से मामले की जांच कर उचित कारवाई करने की उम्मीद की जाए या नही।
loading...

LEAVE A REPLY