पटना : वे जीन्स-टॉप पहनती हैं। मेकअप भी करती हैं। अपनी कातिल अदाओं से लोगों को रिझाती हैं। वे मासूम चेहरे वाली कातिल हसीनाएं हैं। मासूम चेहरे वाली ये हसीनाएं आपको अपनी ओर बुलाएंगी और आपसे मदद मांगेगी लेकिन, सावधान आप उन तक गए तो आपको काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है। दरअसल बिहार के मुजफ्फरपुर में करीब 30 लड़कियों का एक ग्रुप विभिन्न इलाकों में आम राहगीरों और अपनी अदाओं से लूटने में लगा है। शुक्रवार को ऐसा ही कातिल हसीनाओं के एक ग्रुप पुलिस की गिरफ्त में आया है। ये मासूम चेहरे की आड़ मे लोगों को अपनी बुलाकर मदद मांगने के नाम पर लूटने का काम करती थीं।

इस पूरे मामले में अब तक 30 युवतियों की गिरफ्तारी हुई है। इस गिरोह का अंतराज्यीय नेटवर्क है। ये गुजरात से बिहार आकर लोगों को लूटने का काम करती थीं। दरअसल पिछले एक सप्ताह से सोशल साईट पर लगातार पुलिस को शिकायत मिल रही थी कि जिंस पैंट पहने युवतियाँ और महिलाओं का एक गिरोह लगातार सुनसान जगहों पर भयादोहन कर रहीं हैं।मासूम चेहरे वाली यह लूटेरन कातिल हसिनायें बाईक और कार सवार को रोक कर उनसे पैसे की डिमांड करती थी।अकेले पड़े व्यक्ति को यह महिलाओं का समूह रेप केस मे फंसाने की धमकी देकर लूट लिया करती थी।

पुलिस को चकमा देने का किया प्रयास

पुलिस को पहले कांटी थाना क्षेत्र के पास से छह महिलाओं को अवैध वसूली करते पकडा गया। महिला थाना मे इन हसिनाओं ने थानाध्यक्ष को चकमा देते हुए कहा कि हम भीख मांगते हैं और अपना गुजारा करते हैं। पूछताछ के क्रम मे इन लडकियों ने बताया कि हम तीस की संख्या मे हैं और होटल मे रूम लेकर रहते हैं। होटल मे रहकर भीख मांगने की बात पर पुलिस का शक गहरा हो गया। इसी बीच सदर थाना क्षेत्र मे दूसरा गिरोह देखा गया जो लोगों और मीडिया को देखकर भागने लगा। ऑटो से भागते गिरोह की महिलाओं को होटल पहुंचते ही पुलिस ने महिला पुलिसकर्मी और ब्रह्मपुरा थाना के सहयोग से गिरफ्तार कर लिया।
होटल से पकडी गयी 24 कातिल हसिनायें
पूरे मामले पर डी एस पी पश्चिमी क्रिष्ण मुरारी प्रसाद ने बताया कि और जगहों पर छापेमारी चल रही है। संभावना है कुछ और गिरफ्तारी हो सकती है।

loading...

LEAVE A REPLY