राजधानी में पुलिस शराब के खिलाफ एक्शन में है. जक्कनपुर थाना इंचार्ज समेत पूरे थाने के निलंबित कर दिया गया है. वाइन पार्टी के मामले में सोमवार को पुलिस ने कार्रवाई करते हुए साईं इमरजेंसी हॉस्पीटल के निदेशक अनुपम यादव को गिरफ्तार कर लिया है. अस्पताल में शराब पार्टी मामले में अभी और भी गिरफ्तारियां हो सकती हैं.

बता दें कि रविवार को इस मामले में एसएसपी मनु महाराज ने क्विक एक्शन लिया था. लापरवाही के आरोप में पहले जक्कनपुर थाना इंचार्ज एके झा को रविवार की रात ही सस्पेंड कर दिया गया था. शराब खोरी पर पूरी तरह नकेल कसने और अन्य थानों को सख्त मैसेज देने के लिए सोमवार को एसएसपी ने पूरे थाने के पुलिसकर्मी को ही लाइन हाजिर कर दिया.

मालूम हो कि मीठापुर बस स्टैंड के गेट नंबर 2 का पास स्थित साईं इमरजेंसी अस्पताल में रविवार की रात ओटी में कंपाउंडर समेत 5 अस्पताल कर्मी शराबखोरी करते पकड़े गये थे. पुलिस की विशेश टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर छापा मारकर गिरफ्तार किया था. मौके से शराब की बोतलें बरामद की गई थीं.  पटना प्रक्षेत्र के आईजी नैयर हसनैन ने पहेल ही अपने कनीय अधिकारियों के साथ मीटिंग में साफ कर दिया था कि.. अगर किसी के इलाके में शराब मामले में लापरवाही हुई तो खैर नहीं. उधर पिछले दिनों पटना डीएम संजय अग्रवाल ने भी अधिकारियों की बैठक में शराब पर कड़ा एक्शन लेने की बात कही थी. इसी कड़ी में रविवार रात क्विक एक्शन एसएसपी मनु महाराज द्वारा लिया गया. थाना इंचार्ज समेत पूरे थाने पर गाज गिरी. उसके बाद सभी पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया गया.

loading...

LEAVE A REPLY