file photo

पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड में सीबीआई ने सिवान के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन को हिरासत में ले लिया है। हालांकि शहाबुद्दीन फिलहाल तिहाड़ जेल में बंद है।  सिवान में पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड में सिवान के पूर्व सासंद मोहम्मद शहाबुद्दीन का नाम आया था। हालांकि उस समय शहाबुद्दीन भागलपुर जेल में बंद थे और उनका कहना था कि उन्हें इसकी कोई जानकारी नही है। पहले इस कांड की जांच बिहार पुलिस कर रही थी। उसके बाद राजदेव रंजन के परिवार ने इस हत्याकांड की जांच सीबीआई से करवाने की मांग की थी ।ढबिहार के सीवान में हुए पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड में राजद नेता और बाहुबली शहाबुद्दीन को सीबीआई आठ दिनों के रिमांड पर लेगी. मुजफ्फरपुर स्थित विशेष सीबीआई कोर्ट ने सीबीआई को रिमांड की मंजूरी दे दी है.

सीबीआई के आईओ सुनील सिंह राउत ने शाहबुद्दीन को 10 दिनों तक पूछताछ के लिए अर्जी दी थी लेकिन कोर्ट ने 8 दिनों की अनुमति दी है. माना जा रहा है कि सोमवार से सीबीआई राजदेव हत्याकांड में शहाबुद्दीन से पूछताछ शुरू करेगी.

सीबीआई सूत्रों ने बताया कि इस बात का संदेह है कि लड्डन मियां ने दो शार्प शूटर को रंजन की हत्या की सुपारी दी थी. सूत्रों ने बताया कि लड्डन मियां को शहाबुद्दीन समेत अन्य नेताओं का करीबी समझा जाता है. एजेंसी इस मामले में कई संदिग्धों से पूछताछ कर चुकी है

सीबीआई ने इस केस में शहबुद्दीन को 10 वां अभियुक्त बनाया है. सीबीआई की जांच में हत्याकांड में शहाबुद्दीन के खिलाफ पुख्ता साक्ष्य मिले हैं. गौरतलब है कि राजदेव की पत्नी आशा रंजन पहले ही शहाबुद्दीन का नाम सीबीआई और सुप्रीम कोर्ट में ले चुकी हैं.

सीबीआई पत्रकार राजदेव रंजन रंजन द्वारा तत्कालीन कारा मंत्री के सीवान जेल में शाहबुद्दीन से मुलाकात की खबर लिखे जाने को ही हत्याकांड के केन्द्र बिन्दु में रख कर जांच को आगे बढ़ा रही है. शहाबुद्दीन फिलहाल दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद हैं.

loading...

LEAVE A REPLY