बिहार में राज्य सरकार द्वारा नगरपालिका आम निर्वाचन की तिथि में बदलाव का प्रस्ताव है. इसको लेकर राज्य चुनाव आयोग ने स्थानीय निकाय में चुनाव कि तारिख में बदलाव कर दिया है, बदलाव के बाद प्रस्तावित चुनाव कि तारिख अब 21 मई और 4 जुन होगी.

बिहार में वार्ड पार्षद का जो चुनाव 14 मई को होने वाला था अब वह 21 मई को होगा साथ ही पटना नगर निगम के लिए जो चुनाव 28 मई को होने वाला था अब वह 4 जुन को होगा.

ये भी पढ़े :- गिरिराज सिंह ने कहा राम मंदिर हिंदुस्तान में नही तो क्या पाकिस्तान में बनेगा…

राज्य निर्वाचन आयोग ने नगरपालिका आम निर्वाचन 2017 के प्रत्याशियों के लिए नामांकन शुल्क की दर जारी कर दी है. सामान्य वर्ग के प्रत्याशियों के नामांकन का शुल्क दो हजार है. वहीं आरक्षित कोटि के प्रत्याशियों और सभी वर्ग की महिलाओं का नामांकन शुल्क एक हजार निर्धारित किया गया है.

इस बार तीन या उससे ज्यादा बच्चों के माता-पिता नगर निकाय चुनाव नहीं लड़ पाएंगे. वैसे लोग जिनका तीसरा बच्चा 4 अप्रैल 2008 के बाद पैदा हुआ है, उनके चुनाव लड़ने पर रोक है. हालांकि जुड़वा संतान पैदा होने पर यह शर्त लागू नहीं होगी.

वहीं 31 मार्च 2017 तक नगरपालिका के बकाया करों का भुगतान नहीं करने वाले भी चुनाव लड़ने से वंचित रहेंगे.
राज्य निर्वाचन आयोग के सचिव दुर्गेश नंदन के अनुसार नगर निगम, नगर परिषद और नगर पंचायत चुनाव की अधिसुचना अब सात अप्रैल को जारी नही हो सकेगी.

प्राप्त जानकारी के अनुसार बिहार सरकार एंव नगर विकास विभाग से अनुमति मिलने के बाद संभवत एक सप्ताह में नगर पालिका चुनाव के संबंध में अधिसुचना जारी हो पायेगी.

वैसे चुनाव कि तारिख को बढाने के लिए अल्पसंख्यक समुदाय ने मांग कि है. उनका कहना है कि रमजान का महीना शुरू होने से चुनाव तय तारिख से दो दिन पहले कराई जाये.

loading...

LEAVE A REPLY