file photo

देश में ISIS जैसे आतंकी संगठन कि पैठ बढ़ रही है. हाल ही में मध्य प्रदेश में शाजापुर के पास भोपाल-उज्जैन ट्रेन में विस्फोट हुआ था ऐसा माना जा रहा है कि इसमें आईएसआईएस का हाथ था, क्योकि हमले के बाद उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश पुलिस कि कारवाई में ऐसे कई संदिग्ध पकड़े गये जिनका संबंध आईएसआईएस से है. इसी सिलसिले में लखनऊ की हाजी कॉलोनी में एक आतंकी सैफुल्ला पुलिस कारवाई के दौरान मारा गया था. ऐसा बताया जा रहा है कि वह एक संदिग्ध आईएसआईएस आतंकी था.

ताजा खबर है कि आतंकी संगठन आईएसआईएस ने अब बिहार में भी दस्तक दे दी है. बिहार के रोहतास जिले के नौहट्टा गांव के बीचोबीच एक खेत में लगे बिजली के एक खंभे पर आईएसआईएस का पोस्टर लगा हुआ मिला है, कथित पोस्टरों पर हाथ में बंदूक लिए और नकाब पहने आतंकवादियों की तस्वीरें हैं. हालांकि पोस्टर अंग्रेजी में है और बेहद ही खराब अंग्रेजी में इस पोस्टर में युवाओं से अपील की गई है कि वह ज्यादा से ज्यादा संख्या में आईएसआईएस के साथ में जुड़कर इस्लाम का प्रचार करें. इसमें यह भी लिखा हुआ है कि आईएसआईएस बिहार के हर जिले में पहुंच चुका है.
वहीं इस पोस्टर के प्रकाश में आने के बाद बिहार प्रशासन के कान खड़े हो गए हैं पुलिस का कहना है कि आईएसआईएस के पोस्टर लगना सच में गंभीर मुद्दा है, जिन लोगों ने यह किया उनकी खोजबीन शुरू कर दी गई है, जांच चल रही है.
पुलिस यह भी जांच करने में जुटी है कि कहीं किसी शरारती तत्व ने जानबूझकर यह पोस्टर चिपका तो नही दिया है, क्योंकि पुरे इलाके में ऐसा कोई दुसरा पोस्टर नही मिला.
इन पोस्टरों के चलते इलाके में दहशत फैल गई है. यह भी उल्लेखनीय है कि रोहतास जिला खासकर नौहट्टा और उसके आसपास का इलाका नक्सल प्रभावित क्षेत्र में आता और नक्सली पुलिस का ध्यान भटकाने के लिए ऐसे तरिकों का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके पहले बिहार के कुछ इलाकों में नक्सलियों और आईएसआईएस के बीच सांठगांठ की बातें कही जाती रही हैं, पर अभी तक इसकी आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं हो पाई है.

loading...

LEAVE A REPLY