file photo

न्यूज़ डेस्क: प्रणव मुखर्जी का कार्यकाल खत्म होने में बस कुछ दिन ही बचे हैं ऐसे में राजनीति तेज हो गई है. बीजेपी के खिलाफ विपक्ष एकजुट होने की कोशिश कर रहा है. समुचा विपक्ष एकजुट करने के लिए बिहार के सीएम नितीश कुमार लगातार प्रयासरत हैं. इस क्रम में उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से उनके आवास पर मुलाकात भी किया था.

नीतीश कुमार का राष्ट्रपति चुनाव के बहाने समूचे विपक्ष को एकजुट करने का मुहीम रंग लाता दिख रहा है. सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार महागठबंधन की शुरुआत हो चुकी है जल्द ही महागठबंधन का ऐलान किया जा सकता है. सूत्रों के मुताबिक महागठबंधन के अध्यक्ष सोनिया गांधी और संयोजक नीतीश कुमार कुमार को बनाया जा सकता है. सोनिया गांधी से लगातार विपक्ष के नेता मुलाकात कर रहे हैं जिसमे नीतीश कुमार के अलावे सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी, एनसीपी प्रमुख शरद पवार मिल चुके हैं. जल्द ही राजद सुप्रीमों लालू यादव इसके अलावे सपा के नेताओं सोनिया गांधी मुलाकात करने वाली हैं. नीतीश कुमार के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारी पर उठे सवाल पर साफ कर दिया है कि वो राष्ट्रपति के रेस में नहीं हैं. इस पर आखिरी फैसला मिलकर लिया जा सकता है. कांग्रेस यह दावा कर रही है कि अगर समूचा विपक्ष एकजुट हो जाएगा तो एनडीए को आसानी से हराया जा सकता है.

loading...

LEAVE A REPLY