पटना  : कंचन के मां-बाप ने बड़े अरमानों के साथ कंचन की डोली को विदा किया था लेकिन उन्हें क्या पता था कि बदले में ससुरालवाले कंचन की अर्थी की इनको भेजेंगे. इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली ये खबर है फतुहा थाना के मुराजपुर की है, जहां दहेज की खातिर 30 साल की  कंचन का पहले गला दबाया गाय बाद में उसे जलाकर मार देने का सनसनीखेज  मामला सामने आया है.

कंचन  के पिता कैलाश प्रसाद गरीब परिवार से आते हैं जैसे- तैसे खेतीबारी कर के घर चलाते हैं. कर्ज लेकर उन्होंने कन्यादान किया. बताया जाता है कि कंचन के ससुरालवाले मोटरसाइकिल की मांग कर रहे थे लेकिन इस मांग को पूरा करने में कंचन के पिता असमर्थ थे. रविवार की सुबह फतुहा के मुराजपूर के एक खेत में अधजली हालत में कंचन का शव बरामद किया गया. गाव वालों ने इसकी सूचना कंचन के मां-बाप की दी.  कंचन के भाई रजनीश कुमार ने बताया की कंचन की शादी विश्वनाथ यादव के साथ 22-5-2013 को हुई तब उन्होंने तीन लाख 51 हजार रुपया नगद और दो भर सोना देकर हिंदू रीतिरिवाज से शादी की थी.

शादी के कुछ दिनों बाद उन्होंने टीवी और अँगूठी की माँग की तो कंचन के मायेके वालों ने वो भी दिया कंचन का पति विश्वनाथ यादव की लालच और बढ़ती गयी मेट्रिक पास करने के बाद उसने लेपटॉप की माँग की तो कंचन के घर वालों ने उसे दस हजार रुपया भी दिया फ़िर उसने एक मोटरसाईकल की माँग की कंचन के घर वाले मोटरसाईकल नहीँ दे पाये तो कंचन का पति उससे रोज़ मारपीट करता था और आज उसी क्रम में कंचन के ससुरालवालों ने उसकी गलादबार कर के उसकी हत्या कर दी और बाद में उसे खेत में लेकर जला दिया. मौके पर पुलिस पहुँच कर के मामले की जाँच कर रही हैं.  फिलहाल कंचन के ससुरालवालें अभी फरार हैं. पुलिस उनकी गिरफ्तारी के लिये छापेमारी कर रही है.शव को पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया हैं.

loading...

LEAVE A REPLY