जनता दल यूनाइटेड ने आज आखिरकार यह साफ़ कर दिया है कि महागठबंधन चलता रहेगा। पार्टी ने साथ ही यह भी कहा है कि जिन नेताओं पर आरोप लग रहे हैं वो जनता के सामने अपने आरोपों पर स्पष्टीकरण दें।इसके साथ ही जदयू ने गेंद अब राजद के पाले में डाल दी है।

जदयू कार्यकारिणी की बैठक के बाद प्रेस कांफ्रेंस करते हुए पार्टी प्रवक्ता नीरज कुमार ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि जदयू अपनी परंपरा और सिद्धांतों से समझौता नहीं कर सकती है. हमने आरोप लगने पर अपने नेताओं पर कार्रवाई की है. अब जदयू यही उम्मीद गठबंधन में शामिल अन्य पार्टियों से भी करती है. नीरज ने कहा कि हमने हमेशा से गठबंधन धर्म को निभाया है और मरते दम तक ये धर्म निभायेंगे लेकिन जिन पर आरोप लगे हैं उन्हें तथ्यों के साथ जनता की अदालत में आने की जरूरत है।
नीरज कुमार ने यह भी कहा कि हम जनता के जनादेश का पालन करेंगे. ऐसा कहकर उन्होंने गठबंधन को तोड़ने की लग रही अटकलों पर फिलहाल विराम लगा दिया है लेकिन नीरज ने यह भी कहा की मिट्टी में मिल जाएंगे लेकिन पीछे नहीं हटेंगे, हमने जीतनराम मांझी का इस्तीफा पांच घंटे में ले लिया है, गठबंधन धर्म का पालन करना जानते हैं, लेकिन,भ्रष्टाचारियों के साथ नहीं कर सकते हैं समझौता ..

loading...

LEAVE A REPLY