केजरीवाल सरकार के एक और घोटाले का पर्दाफाश हुआ है, अबकी बार ऐसा सबूत मिला है कि केजरीवाल को इमानदार नेता समझने वालों का दिमाग चकरा जाएगा, केजरीवाल मुख्यमंत्री बनने से पहले सिर्फ 2000 रुपये में एक CCTV कैमरा खरीदने का दावा करते थे लेकिन आज 1 CCTV कैमरा 2.20 लाख रुपये में खरीद रहे हैं, मतलब 1000 गुना से भी मंहगा. इतने रुपये में आप एक अल्टो कार खरीद सकते हैं, जी हाँ, 2000 रुपये वाला CCTV कैमरा 2.20 लाख रुपये में खरीद रहे हैं केजरीवाल, इतने रुपये में आ जाएगी एक कार.
कल केजरीवाल सरकार की कैबिनेट ने एक बिल पास किया जिसमें 6350 DTDC बसों में CCTV कैमरे लगाए जायेंगे, जिसके लिए केजरीवाल 140 करोड़ रुपये खर्च करेंगे, अगर 140 करोड़ रुपये को 6350 बसों से Divide किया जाय तो एक बस के लिए 2.20 लाख रुपये का खर्च आ रहा है. Viral News :सांसद Larisa Waters पार्लियामेंट में भाषण देते हुए बच्चे को पिलाया दूध बना रिकॉर्ड
अगर केजरीवाल हर बस में 2 CCTV कैमरे लगायेंगे और उनके हिसाब से एक कैमरे के लिए सिर्फ 2000 रुपये खर्च होंगे तो 12700 CCTV कैमरे के लिए सिर्फ 2 करोड़ 54 लाख रुपये खर्च होंगे लेकिन केजरीवाल तो 140 करोड़ रुपये खर्च कर रहे हैं.
चलो मान लो, केजरीवाल को बहुत बढ़िया क्वालिटी वाला CCTV कैमरा खरीदना है, एक कैमरा 15 हजार रुपये में मिल रहा है और 5000 रुपये Installation में खर्च हो रहे हैं, मान लो एक बस में दो कैमरा लगाना है और एक बस पर 40 हजार रूपये का खर्च आ रहा है. इस कैलकुलेशन से भी 6350 बसों में CCTV लगाने के लिए सिर्फ 25 करोड़ रुपये के आसपास खर्च हो रहे हैं लेकिन केजरीवाल तो 140 करोड़ रुपये खर्च कर रहे हैं, जी हाँ, 115 करोड़ रुपये अधिक.
केजरीवाल को बताना चाहिए ये 115 करोड़ रुपये कहाँ और किसकी जेब में जायेंगे, कहीं 115 करोड़ रुपये वे खुद तो नहीं खा जाएंगे, अगर ऐसा है तो केजरीवाल दिल्ली की जनता को खुलेआम लूट रहे हैं. देखिये ये VIDEO.
loading...

LEAVE A REPLY