रांची/पटना : नीतीश कुमार का एनडीए के राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन देने के सवाल पर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने शुक्रवार को पटना पहुंचकर कहा कि पता नहीं जदयू में कौन सी खिचड़ी पकी है कि नीतीश कुमार ने इतनी बड़ी भूल कर दी है। रामनाथ कोविंद को समर्थन देना नीतीश की ऐतिहासिक भूल है। उन्हें इस पर दोबारा विचार करना चाहिए। पहले तो नीतीश ने कहा कि हम विपक्षी पार्टियों के साथ बैठकर इस पर निर्णय लेंगे। लेकिन, पता नहीं अचानक क्या हुआ कि उन्होंने अकेले निर्णय ले लिया।

 

कांग्रेस करती समर्थन तो भी नहीं देते साथ
लालू ने पटना में कहा कि अगर रामनाथ कोविंद को कांग्रेस समर्थन देती तो भी वह रामनाथ को समर्थन नहीं देते। वे आरएसएस के नेता हैं। ऐसे में हम अपने सिद्धान्त से अलग हटकर उन्हें समर्थन नहीं दे सकते हैं।
महागठबंधन पर नहीं पड़ेगा असर
हालांकि लालू प्रसाद यादव ने शुक्रवार को यह भी कहा कि नीतीश के इस फैसले से महागठबंधन की सरकार पर कोई असर नहीं पड़ेगा। महागठबंधन की सरकार बिना किसी समस्या के चलती रहेगी। लेकिन, हम अपनी सिद्धान्त के साथ समझौता नहीं कर सकते हैं। हां नीतीश कुमार को अपनी भूल सुधारनी चाहिए।

loading...

LEAVE A REPLY