भारत में चंद्रमा को देवता की तरह पूजा जाता है जब भी कोई महिला व्रत रखती है तो वो चंद्रमा को देखकर और उसको जल देकर खोलती हैं. बच्चे हमारे यहां चंद्रमा को चंदा मामा कह कर बुलाते है. लेकिन ग्रीनलैंड में  चंद्रमा को कोई  महिला नहीं देखती हैं.

ग्रीनलैंड में ऐसी मान्यता हैं की  महिला अगर  चंद्रमा की तरफ अपना मुंह कर के सोती हैं तो वो गर्भवती हो जाती हैं. कहा जाता हैं की चंद्रमा ही उनको गर्भवती करता हैं. इसलिए यहां हर लड़की ओए महिला  चंद्रमा से  मुंह मोड़कर सोती हैं.

वैसे तो चाँद को प्रेम का पूरक कहा जाता है. चांदनी रात में प्रेमी-प्रेमिका एक दूसरे के आगोश में खो जाना चाहते हैं. लेकिन ग्रीनलैंड में महिलाएं चाँद से इतना डरती थीं कि चाँद की तरफ मुंह करके सोना भी पसंद नहीं करती थीं.

ग्रीनलैंड के मूल निवासियों का मानना था कि चाँद की वजह से ही महिलाएं गर्भवती होती हैं. इसीलिए वहां की महिलाएं चाँद की तरफ पीठ करके ही सोती थीं और सोते समय अपनी नाभि में थूक लगा लेती थीं ताकि नींद में चाँद आकर उनको प्रेग्नेंट ना बना दे.  ग्रीनलैंड की महिलाओं के लिए चाँद छिछोरा होता हैं.

loading...

LEAVE A REPLY