पटना : सेक्स-सेक्स रैकेट प्रकरण में बुरे फंसे ऑटोमोबाइल कारोबारी निखिल प्रियदर्शी के खिलाफ बिहार पुलिस की SIT ने ऑपरेशन क्रैकडाउन स्टार्ट कर दिया है. फरार चल रहे निखिल प्रियदर्शी के 3 दोस्तों को शनिवार की शाम SIT ने कई ठिकानों से हिरासत में ले लिया. SIT का ऑपरेशन लगातार जारी है. हिरासत में लिए गए निखिल के तीनों जानकारों से कड़ी पूछताछ चल रही है. माना जा रहा है कि ये तीनों फरारी में भी निखिल प्रियदर्शी के संपर्क में थे.

गौरव, प्रेम पांडेय और प्रकाश राज को पटना में अलग-अलग ठिकानों से SIT साथ ले गयी है. निखिल की गतिविधियों के सम्बन्ध में जब SIT की जांच चल रही थी, तभी ये तीनों नाम सामने आए थे. इसमें गौरव को निखिल प्रियदर्शी का सबसे करीबी माना जा रहा है. खबर के मुताबिक़ फरार निखिल के लिए सूचनाओं का आदान-प्रदान इसी के माध्यम से हो रहा था.

SIT यह भी मानती है कि पटना में निखिल के कुछ लोग पुलिस टीम की मुखबिरी में लगे थे. पुलिस की हर सूचना को निखिल तक पहुंचाते थे. इस कारण SIT की टीम कई मौकों पर निखिल के करीब पहुँच कर भी गिरफ्तारी के ऑपरेशन को पूरा नहीं कर सकी. इन तीनों को निखिल के ठिकानों की असली जानकारी है. यह मानकर उगलवाने की कोशिश की जा रही है.




निखिल प्रियदर्शी की अग्रिम जमानत अर्जी SC-ST कोर्ट से खारिज हो चुकी है. हाई कोर्ट में सुनवाई नहीं हुई है. ऐसे में SIT कार्रवाई को स्वतंत्र है. वैसे भी यह मामला अब इतना बड़ा हो चुका है कि पुलिस को फजीहत से बचने के लिए निखिल के करीब किसी भी सूरत में पहुंचना ही होगा. निखिल के मौजूदा ठिकाने के बारे में SIT को कुछ जानकारी है, लेकिन ऑपरेशन की गोपनीयता के कारण इसे शेयर नहीं किया जा रहा. SIT का कहना है कि होली के दौरान भी दबिश जारी रहेगी. गिरफ्तारी कभी भी हो सकती है.

loading...

LEAVE A REPLY