शराब पीकर गाड़ी चलाना आने वाले दिनों में बहुत महंगा पडऩे वाला है।  इस संबंध में लोकसभा में आज एक महत्वपूर्ण विधेयक पेश किया गया। सडक़ परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने विधेयक पेश करते हुए कहा कि वर्ष 1988 के मोटर यान कानून में 30 साल बाद संशोधन करने के लिए यह विधेयक लाया गया है। नशे की हालत में गाड़ी चलाते पकड़े गए तो अब दस हजार रुपये का जुर्माना भरना पड़ेगा।

उन्होंने बताया कि विधेयक में यातायात नियमोंं और ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने के संबंध में राज्यों के लिए ई गर्वनेंस को अनिवार्य किया गया है। उन्होंने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया कि दुनिया में भारत एक ऐसा देश है जहां ड्राइविंग लाइसेंस बहुत आसानी से मिल जाता है और एक व्यक्ति चार चार राज्यों में जाकर ड्राइविंग लाइसेंस बनवा लेता है। गडकरी ने कहा कि अब लोग घर बैठे लनिकग लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकेंगे लेकिन स्थायी लाइसेंस बनवाने के लिए कम्प्यूटर के जरिए परीक्षा देनी होगी। उन्होंने कहा,  नेता , अभिनेता या पत्रकार चाहे कोई भी हो, सबको परीक्षा देकर ही लाइसेंस मिल सकेगा।

loading...

LEAVE A REPLY