पटना : बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से गुरुवार को दोपहर 1 बजे मैट्रिक का रिजल्ट जारी कर दिया गया है। इस बार मैट्रिक यानी 10वीं की परीक्षा में 50.12 फीसदी परीक्षार्थी पास हुए हैं। लखीसराय के गोविंद हाई स्कूल के प्रेम कुमार 465 अंकों के साथ स्टेट टॉपर हुए हैं। वहीं सिमुलतला स्कूल की भव्या कुमारी दूसरी टॉपर हैं, उन्हें 464 अंक मिले हैं। जबकि हर्षिता 462 अंकों के साथ थर्ड टॉपर रही हैं। वहीं इससे पहले रिजल्ट को शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव आरके महाजन और बीएसईबी के अध्यक्ष आनंद किशोर ने मिलकर जारी किया. बता दें 17 लाख 40 हजार स्टूडेंट्स परीक्षा में शामिल हुए थे. इसमे करीब आधे छात्र ही सफल हुए हैं और आधे फेल हैं। इस बार मैट्रिक का रिजल्ट 10 दिन देर से आया है।

Check your result here :- http://bihar.indiaresults.com/bseb/

दरअसल मैट्रिक रिजल्ट के निकलने में देरी के पीछे ग्रेस और टॉपरों के वेरीफिकेशन का मामला चल रहा था. इससे जुड़ी अब सभी समस्याओं को पूरी तरह दूर कर लिया गया है. ग्रेस में 8 अंक देने पर फैसला हो गया है. इसके अनुसार एक विषय में फेल होनेवाले छात्रों को 8 अंक तक का ग्रेस दिया गया है, जबकि दो विषयों में फेल होनेवाले छात्रों को ग्रेस में 4-4 अंक दिये गये हैं.
सूत्रों की माने कि अगर ग्रेस मार्क्स न दिए जाते तो बिहार बोर्ड के सिर्फ 35 प्रतिशत परीक्षार्थी ही मैट्रिक की परीक्षा में सफल हो पाते। बताया जाता है कि बोर्ड ने फिर से एक बार खुद की बदनामी से बचने के लिए रिजल्ट को ग्रेस मार्क्स देकर बेहतर करने की कोशिश की है। फिर भी अगर देखा जाए तो इस बार 50.12 प्रतिशत रिजल्ट भी बेहतर नहीं माना जायेगा। ऐसे में ये सवाल तो जरूर उठता है कि अगर ग्रेस मार्क्स नहीं दिए जाते तो क्या बिहार बोर्ड का रिजल्ट सिर्फ 35 प्रतिशत के करीब ही रह जाता।

 

रिजल्ट एक नजर

उतीर्ण छात्र -50.12 फीसदी
अनुतीर्ण छात्र– 49.88
टॉपर — प्रेम कुमार,लखीसराय
सेकंड टॉपर – सुश्री भव्या कुमारी,सिमुलतल्ला विद्यालय,जमुई।
थर्ड टॉपर — हर्षता कुमारी,सिमुलतल्ला विद्यालय जमुई।
बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के चेयरमैन आनंद किशोर ने घोषित किया रिजल्ट
प्रथम श्रेणी में उतीर्ण छात्र– 13.11प्रतिशत।
द्वितीय श्रेणी में उतीर्ण– 26.88
तृतीय श्रेणी में उतीर्ण — 9.32 प्रतिशत।
इस वर्ष कुल 17 लाख 23 हजार 911 छात्र- छात्राएं परीक्षा में सम्मिलित हुए जिसमे 8 लाख 63 हजार 950 विद्यार्थी परीक्षा में सफल हुए।

loading...

LEAVE A REPLY