file photo

गया के परैया थाना क्षेत्र के ईश्वरपुर गांव में दंपत्ति का शव मिलने के बाद गांव में सनसनी फैल गई. आनन-फानन में ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी. घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल भेज दिया. मृतकों की पहचान बबलू पाठक तथा उसकी पत्नी मंजू पाठक के रुप में की गई है. बबलू पाठक के पिता सीआरपीएफ में झारखंड में तैनात है। मृतक बबलू पाठक के बच्चों की मानें तो बीती रात मोबाइल फोन को लेकर दोनों पति-पत्नी में काफी झगड़ा हुआ था. झगड़े के बाद बबलू पाठक ने अपनी पत्नी मंजू पाठक का गला रेत कर हत्या कर दी और खुद फांसी लगा ली.

गर्व : बिहार में शराबबंदी के पूर्ण हुई एक साल

जबकि सुबह जब घर के कमरों में लाशों को बरामद किया गया, तो दोनों का गला रेता हुआ मिला. पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है. हालांकि मामला इसलिए भी संदेहास्पद है क्योंकि घर के अंदर लगे वेंटीलेटर पर भी खून के निशान हैं, जबकि अन्य स्थानों तथा छत पर से खून के निशानों को बोरे से साफ करने की भी कोशिश की गई है। मौके पर पहुंचे टिकारी डीएसपी मनीष कुमार ने बताया कि पूरे मामले की छानबीन की जा रही है. हत्या में प्रयुक्त हसुआ को भी बरामद कर लिया गया है और एफएसएल की टीम को बुलाई गई है।

loading...

LEAVE A REPLY