नई दिल्ली: इन्फोसिस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) विशाल सिक्का ने बताया कि विरोधी उन्हें नुकसान पहुंचाने के लिए संरचनात्मक तरीके से कंपनी के बारे में गलत और भ्रामक किस्से गढ़ रहे हैं। आपको बता दें कि हाल ही में आईटी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी इन्फोसिस के बोर्ड और संस्थापकों के बीच तनातनी की खबरें सामने आई थीं।
क्या कहा सिक्का ने:
इन्फोसिस के सीईओ ने कर्मचारियों को एक मेल लिखकर कहा है कि अमेरिकी कंपनी पनाया के अधिग्रहण को लेकर सवाल खड़ा करने वाली खबरें प्रचारित करने का काम वो लोग कर रहे हैं जो कंपनी की प्रतिष्ठा और इसके कर्मचारियों को नुकसान पहुंचाना चाहते हैं। सिक्का ने कहा कि हमने ऐसी सभी खबरों का श्रेणीबद्ध तरीके से खंडन किया है, लेकिन फिर भी ऐसी खबरें छप रही हैं।
सिक्का का दावा पनाया के अधिग्रहण में कुछ भी गलत नहीं:
विशाल सिक्का ने कर्मचारियों के सामने दावा किया कि इजरायल की सॉफ्टवेयर फर्म पनाया के अधिग्रहण में कुछ भी गलत नहीं हुआ। आपको बता दें कि पनाया अधिग्रहण के मामले में अनियमितता के नए आरोप लगाए गए थे। एक व्हिसलब्लोअर ने बाजार नियामक सेबी और अमेरिकी एसईसी आदि को पत्र लिखकर कहा था कि इन्फोसिस ने पनाया के लिए ज्यादा भुगतान किया है। इन्फोसिस ने 16 फरवरी 2015 को 20 करोड़ डॉलर में पनाया का अधिग्रहण किया था।

loading...

LEAVE A REPLY