नयी दिल्ली:
आम आदमी पार्टी (आप) के राष्टÑीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को दिल्ली के नये मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। उनके साथ छह मंत्रियों ने भी शपथ ली। ऐतिहासिक रामलीला मैदान में श्री केजरीवाल को भारी जनसमूह के बीच उपराज्यपाल नजीब जंग ने पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। श्री केजरीवाल ने ईश्वर के नाम पर हिन्दी में शपथ ली। मंत्रिमंडल में शामिल सभी छह मंत्रियों ने भी हिन्दी में ही शपथ ग्रहण की। अपनी सादगी के लिए लोकप्रिय केजरीवाल शपथ ग्रहण करने भी अपनी रोजमर्रा की वेशभूषा में आये। सिर पर आम आदमी की पहचान टोपी, नीला स्वेटर, काली पैंट और पैर में संैडल पहने 11 बजकर 55 मिनट पर जैसे ही मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की, रामलीला मैदान में मौजूद जनसैलाब के वंदेमातरम और भारत माता की जय के नारे से गूंज उठा। शपथ ग्रहण से पहले दिल्ली के मुख्य सचिव दीपक मोहन सपौलिया ने राष्टÑपति प्रणब मुखर्जी द्वारा 25 दिसम्बर को मुख्यमंत्री नियुक्त करने का पत्र पढकर सुनाया। शपथ ग्रहण करने के बाद केजरीवाल ने अपने शपथ पत्र पर हस्ताक्षर किये। केजरीवाल के बाद शपथ ग्रहण करने वालों में उनके अति विश्वासपात्र सहयोगी मनीष सिसौदिया थे। इसके बाद सोमनाथ भारती, सत्येन्द्र जैन, राखी बिड़ला, गिरीश सोनी और सौरभ भारद्वाज ने मंत्री पद की शपथ ली। शपथ ग्रहण करीब पंद्रह मिनट चला। रामलीला मैदान में उत्सव जैसा माहौल था। आम आदमी पार्टी के हजारों कार्यकर्ता तड़के से ही जुटने शुरु हो गए थे। मैदान को खूब सजाया गया था और शपथ ग्रहण से पहले देशभक्ति के गीतों और वंदेमातरम से गूंजता रहा। शपथ ग्रहण शुरु होने से पहले और बाद दिल्ली पुलिस के बंैड ने राष्ट्रीय धुन बजाई। सुरक्षा के लिहाज से रामलीला मैदान पर तो चप्पे चप्पे पर सुरक्षाकर्मी तैनात थे। आसपास की इमारतों पर भी सुरक्षा बल सतर्क थे । दिल्ली पुलिस के 1600 जवानों ने मोर्चा संभाल रखा था। इसके अलावा बडी संख्या मे सीसीटीवी कैमरा भी लगाये गए थे । अतिथियो की दीर्घा मे विपक्ष के नेता हर्षवर्धन और भाजपा के वरिष्ठ विधायक साहिब सिंह चौहान थे। अधिकारी दीर्घा में मौजूद उच्च शिक्षा सचिव राजेन्द्र कुमार को लेकर खासी चर्चा रही। माना जा रहा है कि श्री कुमार को श्री केजरीवाल का प्रधान सचिव बनाया जायेगा। आप के कई सर्मथक रामलीला मैदान मे पार्टी के चुनाव चिन्ह झाडू के साथ पहुंचे और बीच .बीच मे झाडू उठाकर जोर.जोर से नारे लगाते रहे। मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि पूरे देश में क्रांति की तरंग दौड़ रही है और भारत को अगले पांच वर्ष में फिर से सोने की चिड़िया बनने से कोई नहीं रोक सकता है । खचाखच भरे ऐतिहासिक रामलीला मैदान में शनिवार को दिल्ली के पांचवें मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद श्री केजरीवाल ने अपने पहले संबोधन में कहा कि सब मिलकर काम करेंगे तो पुराना वैभव हासिल करने से देश को कोई रोक नहीं सकता। केजरीवाल के साथ उनके मंत्रिमंडल के छह सहयोगियों ने भी पद एवं गोपनीयता की शपथ ली।सामाजिक आंदोलन चलाने वाले श्री केजरीवाल ने एक साल पहले आम आदमी पार्टी बनाकर राजनीति मे उतरे और दिल्ली विधानसभा के चुनाव मे 70 मे से 28 सीटे जीतकर इतिहास रचा 1 कांग्रेस के आठ विधायको ने आप की सरकार को बाहर से र्समथन दिया है । उन्होने अपने मंत्रियो और विधायको को आगाह करते हुए कहा कि हम यहां सरकार चलाने नहीं आये है.जनता की सेवा करने आये है और हमारे मे किसी प्रकार का घमंड नहीं आना चाहिए 1 उन्होने कहा कि यह सरकार हमारी नहीं बनी है जनता की बनी है । दिल्ली की जनता ने देश की भ्रष्ट राजनीति को उखाड फेकने की शुरुआत की है और हमे किसी प्रकार के घमंड मे नहीं आना है . जिससे कि हमारे अभिमान को तोडने के लिए फिर एक नयी पार्टी को जन्म लेने की जरुरत पडे

loading...

LEAVE A REPLY